आइए दोसतो आज हम बात करते है विश्व कप के बारे में।

तो दोस्तों कैसे हैं।आप लोग आज मैं बात करने वाला हूं। हमारे वर्ल्ड कप के बारे में और हम यह भी जानेंगे कि इस बार वर्ल्ड कप कौन जीतेगा और हमें आशा करेंगे कि इस बार का वर्ल्ड कप भारत जीते प्वाइंट्स टेबल में इंडिया सबसे ऊपर है जिन्होंने 9 मैच खेले हैं। और उसमें से इन्होंने सात मेंच जीते हैं और एक मैच उन्होंने उसमें से हारा है और एक मैच इन का टाइ हुआ है और यह 15 पॉइंट के साथ सबसे ऊपर के स्थान पर है। और इनसे नीचे वाले स्थान पर है टीम ऑस्ट्रेलिया जिन्होंने अपने 9 मैचों में से 7 में जीते हैं और दो मैच हारे हैं यह टीम 14 पॉइंट की के साथ अपने दूसरे स्थान पर हैं और इससे बाद में आती है टीम इंग्लैंड जो कि तीसरे स्थान पर है टीम इंग्लैंड ने 9 मैचों में से छह मैच जीते हैं और तीन मैच हारे हैं और यह 12 पॉइंट के साथ तीसरे स्थान पर बनी हुई है इन के बाद में टीम आती है।

न्यूजीलैंड न्यूजीलैंड टीम चौथे स्थान पर बनी हुई है इस टीम ने 9 मैचों में से पांच मैच जीते हैं। और एक मैच इन का बारिश की वजह से हुआ है।यह 11 पॉइंट के साथ चौथे स्थान पर बनी हुई है। यह थे हमारे वर्ल्ड कप के टॉप 40 चीजों की सेमीफाइनल के लिए क्वालिफाइड हो चुकी हैं। अब इन 4 टीमों के बीच मुकाबला होगा जिसमें कि पहला स्थान और चौथे स्थान के साथ मुकाबला और दूसरे स्थान और तीसरे स्थान के साथ मुकाबला पहले स्थान पर टीम इंडिया अपने चौथे स्थान पर न्यूजीलैंड टीम के साथ भिड़ेगी और इनके बाद यह मुकाबला 9 जुलाई को खेला जाएगा और इनके बाद मुकाबला होगा दूसरे नंबर की टीम और तीसरे नंबर की टीम जो कि ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच होगा यह मुकाबला 11 तारीख को खेला जाएगा इस मुकाबले के बाद में फाइनल मुकाबला होगा जो कि 13 तारीख को लौट के मैदान में खेला जाएगा यह मुकाबला यह बताएगा कि पूरे विश्व में सबसे बेहतरीन क्रिकेट टीम कौन सी है क्योंकि ऑस्ट्रेलिया एकमात्र ऐसी टीम है जो कि 5 बार विश्व का उठा चुकी हैं। और उसके बाद में है टीम इंडिया जोकि दो बार विश्व कप उठा चुकी है और इनके बाद में न्यूजीलैंड जोगी एक बार पदक उठा चुकी है परंतु इंग्लैंड एकमात्र ऐसी टीम है।

जिसने अभी तक एक भी वर्ल्ड कप नहीं जीता है और वह तो 4 में शामिल है इंग्लैंड में पांच बार विश्व कप खेला जा चुका है परंतु एक बार भी इंग्लैंड की टीम विश्वकप नहीं उठा पाई है 2011 में जब भारत में वर्ल्ड कप हुआ था तो महेंद्र सिंह धोनी की निगरानी में टीम इंडिया ने वर्ल्ड कप उठाया था और उससे पहले 1983 में कपिल देव की निगरानी में इंडिया ने वर्ल्डकप उठाया था और इस बार भी आशंका लग रही है कि इंडिया टीम वर्ल्ड कप का पदक अपने नाम कर सकती है। सबसे पहला वर्ल्ड कप का मुकाबला इंग्लैंड में खेला गया था उसके बाद में तीनों साल लगातार इंग्लैंड में ही वर्ल्ड कप का मुकाबला खेला गया और यह तीनों मुकाबलों में से ऑस्ट्रेलिया दो बार जीत चुका है।फिर यह मुकाबला ऑस्ट्रेलिया में भी हुआ इंडिया में भी हुआ और अन्य न्यूजीलैंड जैसे कई देशों में हुआ परंतु इंग्लैंड आज तक वर्ल्ड कप कप पदक नहीं हासिल कर पाई है। वर्ल्डकप एकमात्र ऐसा मुकाबला है जिसके अंदर यह साबित हो जाता है कि विश्व की सबसे मजबूत टीम कौन सी है।

भारत इस बार वर्ल्ड कप की प्वाइंट्स टेबल में सबसे अव्वल नंबर पर है और वह यह दर्शाता है कि भारत इस बार वर्ल्ड कप जीत सकती है। और हम सब यही मनोकामना करेंगे कि भारत वर्ल्ड कप जीत जाए और हमारे देश में एक बार फिर वर्ल्ड कप आए इस बार वर्ल्ड कप की टीम की निगरानी हमारे भारत टीम के कैप्टन विराट कोहली कर रहे हैं और उनका यह सपना भी है कि वह इस बार वर्ल्ड कप अपने नाम करें यह हमारे भारत देश के लिए बहुत ही बड़ी उपलब्धि होगी कि इस बार वर्ल्ड कप हमारे यहां पर आए।

Author: admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *